देश के 60 हवाई अड्डों पर तैनात होंगे निजी सुरक्षा एजेंसी के जवान, जानिए क्यों किया जा रहा ये बदलाव


नई दिल्ली: देश के 60 हवाई अड्डों पर निजी एजेंसी (PSA) के सुरक्षा कर्मी तैनात किए जाएंगे। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी एएआई (AAI) अब केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल यानी सीआईएसएफ (CISF) के जवानों की जगह इनकी तैनाती करेगा। इन सुरक्षा कर्मचारियों की तैनाती नॉन-कोर डयूटी पोस्ट पर की जाएगी। इन हवाई अड्डों पर निजी एजेंसी के करीब 1,924 गार्ड तैनात किए जाएंगे। विमानन सुरक्षा नियामक नागरिक उड्डयन सुरक्षा ब्यूरो ने मई में परिपत्र जारी किया था। हवाई अड्डों ने निजी सुरक्षा गार्डों की सेवाएं लेनी शुरू कर दी हैं। इनके कामों में प्रवेश एवं निकास द्वार पर यात्रियों को अलग-अलग भेजना, सुरक्षा क्षेत्र को नियंत्रित करना व इस क्षेत्र में दस्तावेज की जांच करना, आगंतुक कक्ष, महत्त्वपूर्ण संस्थानों की सुरक्षा आदि शामिल हैं। एएआई का कहना है कि इससे सुरक्षा खर्च कम होगा।

सीआईएसएफ के पदों को खत्म किया
हवाई अड़्डों पर सीआईएसएफ के 1,900 जवानों को हटाया गया है। वहां सीआईएसएफ के तीन हजार पदों को खत्म कर दिया गया है। अभी 65 हवाई अड्डों पर सीआईएसएफ के 29,000 जवान तैनात हैं। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, इससे एएआई का खर्च कम होगा। दरअसल सीआईएसएफ के जवानों के मुकाबले निजी सुरक्षा गार्डों की सैलरी कम है। उम्मीद है कि निजी सुरक्षा गार्डों की सेवाएं लेने से विमानन सुरक्षा खर्च घटेगा। अभी हवाई अड्डे सीआईएसएफ की सुरक्षा के खर्च को वहन करते हैं और इसे मुसाफिरों से विमानन सुरक्षा शुल्क के तौर पर वसूला जाता है। अभी घरेलू मुसाफिरों से विमानन सुरक्षा शुल्क 160 रुपये और विदेश से आने वाले मुसाफिरों से 12 डॉलर वसूले जाते हैं। जानकारों के मुताबिक, निजी एजेंसी गार्ड की तैनाती से संबंधित लागत की हवाई अड्डों को प्रतिपूर्ति की जाएगी।

India China Standoff: चीन को भारत से सबसे ज्यादा खतरा, शी जिनपिंग ने PLA के वेस्टर्न थिएटर कमांड को किया मजबूत

सीआईएसएफ की ही रहेगी जिम्मेदारी
जानकारों के मुताबिक, हवाई अड्डे के मुख्य क्षेत्र की सुरक्षा की जिम्मेदारी प्रमुख रूप से सीआईएसएफ पर ही रहेगी। इनमें अपहरण विरोधी इंतजाम और ‘पैरीमीटर’ सुरक्षा शामिल है। निजी एजेंसी के गार्डों को प्रशिक्षण पूरा करने के बाद ही तैनात किया जा रहा है। सीआईएसएफ के कमांड संचालन व उनके नियंत्रण के तहत निजी सुरक्षा एजेंसी के कर्मी रहेंगे। उन्हें सीआईएसएफ का प्रशिक्षण पूरा करने के बाद तैनात किया जा रहा है।

UNSC Members: संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्य बनाए जाएं भारत, जापान और जर्मनी… बाइडेन ने किया समर्थन

सुरक्षाकर्मियों को किया जा रहा तैनात
मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, दिल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर निजी सुरक्षा एजेंसी की सेवाएं ली गई हैं। उन्हें तैनात करने की प्रक्रिया जारी है।



Source link

MERA SHARE BAZAAR
नमस्कार दोस्तों मेरा शेयर बाजार हिंदी भाषा में शेयर बाजार की जानकारी देने वाला ब्लॉग है। नए लोग इस बाजार में आना चाहते हैं उन्हें सही से मार्गदर्शन देने का प्रयास करती है। इसके अलावा फाइनेंसियल प्लानिंग, पर्सनल फाइनेंस, इन्वेस्टमेंट, पब्लिक प्रोविडेंड फण्ड (PPF), म्यूच्यूअल फंड्स, इन्शुरन्स, शेयर बाजार सम्बंधित खास न्यूज़ भी समय -समय पर देते रहते हैं। धन्यवाद्

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.