Anand Mahindra tweet: टेस्ला को खा जाएंगी भारत की इलेक्ट्रिक कारें, आनंद्र महिंद्रा ने कहा.. आपके मुंह में घी शक्कर


नई दिल्ली: इलेक्ट्रिक कार एबनाने वाली दिग्गज कंपनी टेस्ला (Tesla) ने फिलहाल भारत आने की योजना टाल दी है। टेस्ला दुनिया की सबसे मूल्यवान कंपनी है और इसके सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) दुनिया के सबसे बड़े रईस हैं। मस्क चाहते थे कि टेस्ला को भारत में कार बेचने की अनुमति दी जाए और विदेश से मंगाई जाने वाली कारों पर कोई टैक्स नहीं लगाया जाए। लेकिन भारत सरकार ने उसकी इस मांग को ठुकरा दिया था। फॉर्चून की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत में भी बड़े पैमाने पर इलेक्ट्रिक कारें बन रही हैं जो टेस्ला को धूल चटा सकती हैं। सोडियम आयन बैटरी बनाने वाली ब्रिटिश कंपनी Faradion ने इस ट्वीट किया था। महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप (Mahindra and Mahindra) के चेयरमैन आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) ने इसी रिट्वीट करते हुए लिखा, ‘आपके मुंह में घी शक्कर।’

भारत में टाटा और महिंद्रा सहित कई कंपनियां इलेक्ट्रिक कारें बना रही हैं। महिंद्रा एंड महिंद्रा ने इलेक्ट्रिक कारों के लिए बड़ी योजना बनाई है। कंपनी को वित्त वर्ष 2027 तक दो लाख इलेक्ट्रिक कारें बेचने का भरोसा है। कंपनी ईवी बिजनस पर एक अरब डॉलर से अधिक निवेश कर रही है। उसकी योजना अगले पांच साल में पांच इलेक्ट्रिक वीकल निकालने की है। कंपनी का कहना है कि वित्त वर्ष 2027 से उसकी कुल बिक्री में इलेक्ट्रिक कारों की हिस्सेदारी 20 से 30 फीसदी होंगी।

क्या कहा था मस्क ने
मस्क ने हाल में ट्वीट किया था कि टेस्ला किसी भी ऐसी जगह मैन्युफैक्चरिंग प्लांट नहीं लगाएगी जहां उसे पहले अपने कारों को बेचने की अनुमति नहीं मिलेगी। मस्क चाहते थे कि भारत सरकार टेस्ला को चीन से कारें आयात करने का लाइसेंस दे और इस कारों पर कोई इम्पोर्ट ड्यूटी न लगाई जाए। लेकिन भारत सरकार ने उनकी मांग को खारिज कर दिया। भारत में भी इलेक्ट्रिक कारों की नई जेनरेशन डेवलप हो रही है। ये गाड़ियां अंतरराष्ट्रीय बाजार में टेस्ला की छुट्टी कर सकती हैं। इसकी वजह यह है कि भारत में आधुनिक तकनीक पर आधारित इलेक्ट्रिक कारें बन रही है जबकि टेस्ला की तकनीक एक दशक पुरानी है।

Agnipath Protest: अग्निवीरों के लिए आनंद महिंद्रा ने खोले अपनी कंपनी के दरवाजे, जानिए किन लोगों को नौकरी देने की बात कही!
टाटा मोटर्स की कॉन्सेप्ट कार Avinya की तकनीक टेस्ला से कहीं ज्यादा एडवांस है। इसी तरह महिंद्रा की Born Again इलेक्ट्रिक कार टेस्ला की टक्कर की हैं और उसकी कीमत टेस्ला की कारों की कीमत में आधी है। बैटरी प्रॉडक्शन के मामले में भी भारत में प्रगति हुई है। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने ब्रिटेन की कंपनी Faradion को 10 करोड़ पाउंड में खरीदा है। यह सोडियम आयन बैटरी बनाने वाली दुनिया की अग्रणी कंपनियों में से एक है।



Source link

MERA SHARE BAZAAR
नमस्कार दोस्तों मेरा शेयर बाजार हिंदी भाषा में शेयर बाजार की जानकारी देने वाला ब्लॉग है। नए लोग इस बाजार में आना चाहते हैं उन्हें सही से मार्गदर्शन देने का प्रयास करती है। इसके अलावा फाइनेंसियल प्लानिंग, पर्सनल फाइनेंस, इन्वेस्टमेंट, पब्लिक प्रोविडेंड फण्ड (PPF), म्यूच्यूअल फंड्स, इन्शुरन्स, शेयर बाजार सम्बंधित खास न्यूज़ भी समय -समय पर देते रहते हैं। धन्यवाद्

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.