Fact check: पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए खरीदना होगा ट्रेन टिकट! जानिए क्या है हकीकत


नई दिल्ली: भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने ट्रेन में यात्रा करने वाले बच्चों के लिए टिकट बुकिंग के संबंध में नियम बदल दिया है। एक मीडिया रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। इन रिपोर्ट में दावा किया गया है कि अब एक से चार साल की उम्र के बच्चों को ट्रेन में सफर करने के लिए टिकट लेना होगा। लेकिन रेलवे ने इस रिपोर्ट का खंडन किया है। उसका कहना है कि ट्रेन में यात्रा करने वाले बच्चों के लिए टिकट बुकिंग संबंधी नियम में कोई बदलाव नहीं किया गया है। रेल मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि यह समाचार सामग्री और मीडिया रिपोर्ट भ्रामक हैं।

रेल मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि भारतीय रेलवे ने ट्रेन में यात्रा करने वाले बच्चों के लिए टिकटों की बुकिंग के संबंध में कोई बदलाव नहीं किया है। यात्रियों की मांग पर उन्हें टिकट खरीदने और अपने 5 साल से कम उम्र के बच्चे के लिए बर्थ बुक करने का विकल्प दिया गया है। और अगर वे अलग बर्थ नहीं चाहते हैं, तो यह सुविधा निशुल्क है, जैसे पहले हुआ करती थी।

Indian railway news: रेलवे का बड़ा फैसला, ट्रेन और स्टेशनों पर धड़ल्ले से सामान बेच सकेंगे फेरीवाले
कब लगेगा किराया
रेल मंत्रालय के छह मार्च 2020 के एक सर्कुलर में कहा गया है कि पांच साल से कम उम्र के बच्चों को मुफ्त में ले जाया जाएगा। हालांकि, अलग बर्थ या सीट (कुर्सी कार में) नहीं दी जाएगी। इसलिए किसी भी टिकट की खरीद की आवश्यकता नहीं है, बशर्ते अलग बर्थ की मांग नहीं की जाए। यदि पांच वर्ष से कम आयु के बच्चों के लिए स्वैच्छिक आधार पर बर्थ/सीट की मांग की जाती है तो इसके लिए पूरा किराया वसूल किया जाएगा।

Super Vasuki Freight Train: जब पटरी पर दौड़ी 3.5 किमी लंबी ‘सुपर वासुकी’, भारतीय रेलवे ने कर दिया कमाल



Source link

MERA SHARE BAZAAR
नमस्कार दोस्तों मेरा शेयर बाजार हिंदी भाषा में शेयर बाजार की जानकारी देने वाला ब्लॉग है। नए लोग इस बाजार में आना चाहते हैं उन्हें सही से मार्गदर्शन देने का प्रयास करती है। इसके अलावा फाइनेंसियल प्लानिंग, पर्सनल फाइनेंस, इन्वेस्टमेंट, पब्लिक प्रोविडेंड फण्ड (PPF), म्यूच्यूअल फंड्स, इन्शुरन्स, शेयर बाजार सम्बंधित खास न्यूज़ भी समय -समय पर देते रहते हैं। धन्यवाद्

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.