Reliance AGM: 5जी से लेकर रिटेल तक… रिलायंस एजीएम की मुख्‍य बातें


नई दिल्‍ली: रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के सीएमडी मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने आज कंपनी की 45वीं वार्षिक आम सभा (AGM) में सभी शेयरधारकों को संबोधित किया। इस दौरान उन्‍होंने कई बड़े एलान किए। इनमें जियो की 5जी सर्विस से जुड़े प्‍लान की भी घोषणा शामिल थी। इस आमसभा का विभिन्न मंचों पर प्रसारण हुआ। इसे लोगों को डिजिटल तरीके से जोड़ने का एक प्रयास माना जा रहा है। रिलायंस इंडस्ट्रीज दुनिया की कुछ गिनी-चुनी कंपनियों में से एक है जो अपनी आमसभा का वर्चुअल रियलिटी मंच के अलावा सोशल मीडिया मंचों पर लाइव प्रसारण करती है। इस बैठक का आधिकारिक जियोमीट प्रसारण भी किया गया। आइए, यहां एजेएम की मुख्‍य बातों के बारे में जानते हैं।

अगले साल हाइब्रिड मोड से मुलाकात
मुकेश अंबानी ने कहा – मुझे, हमारी व्यक्तिगत बातचीत और हमारा गर्मजोशी से मिलना याद आता है। मुझे पूरी उम्मीद है कि अगले साल हम एक हाइब्रिड मोड पर मिलेंगे, जो भौतिक और डिजिटल दोनों तरीकों का एक संयोजन होगा।

प्रधानमंत्री के विजन को किया याद
सीएमडी बोले- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त के अपने भाषण में पंच-प्रण या पांच अनिवार्यताओं की बात की थी, जिससे निश्चित तौर पर भारत को 2047 तक एक विकसित राष्ट्र बनाया जा सकेगा। उन्होंने अगले 25 वर्षों को भारत के ‘अमृत काल’ के रूप में वर्णित किया है। यह एक अमृत युग होगा। स्वतंत्रता के बाद की सभी पीढ़ियों ने अब तक सामूहिक रूप से जो कुछ हासिल किया है, भारतीयों की अगली पीढ़ी उससे कहीं अधिक हासिल करने को तैयार हैं और रिलायंस भारत की समृद्धि और प्रगति में पहले से कहीं अधिक योगदान देने को तैयार है।

कोविड की चुनौतियों का जिक्र
अंबानी ने कहा- महामारी से निपटने में सरकार के कुशल प्रबंधन और आर्थिक चुनौतियों से मुकाबला करने में उसके व्यावहारिक दृष्टिकोण ने, भारत को पहले से अधिक मजबूत, पहले से अधिक समझदार और पहले से अधिक लचीला बनाने में मदद की है। मैं हम सबके प्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके दूरदर्शी नेतृत्व के लिए और वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को अभूतपूर्व आर्थिक चुनौतियों और अस्थिरता के दौर में भारतीय अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए बधाई देना चाहता हूं।

विकास को दिया जाएगा बढ़ावा
मुकेश अंबानी ने कहा- रिलायंस का मूल दर्शन है। स्वयं का भला करने से पहले दूसरों का भला करना। देखभाल के हमारे लगातार बढ़ते दायरे ने वैश्विक स्तर पर रिलायंस के प्रति सम्मान को बढ़ाया है और कंपनी के सतत विकास को भी सुनिश्चित किया है।

100 अरब डॉलर की कंपनी बन चुकी है रिलायंस
मुकेश अंबानी बोले- हमारी कंपनी $100 बिलियन वार्षिक राजस्व को पार करने वाली भारत की पहली कॉर्पोरेट बन गई है। रिलायंस का कंसोलिडेटेड राजस्व 47% बढ़कर 104.6 बिलियन डॉलर हो गया है। रिलायंस के वार्षिक कंसोलिडेटेड EBITDA ने ₹ 1.25 लाख करोड़ का महत्वपूर्ण पड़ाव पार कर लिया है।

2.32 लाख नौकरी पैदा कीं
रिलायंस ने समुदाय की सेवा करने के लिए उच्च मानक स्थापित किए है साथ ही बड़े पैमाने पर व्यापार और सामाजिक मूल्यों की भी रचना की है। रिलायंस का निर्यात 75% बढ़कर ₹2,50,000 करोड़ हो गया है; राष्ट्रीय खजाने में रिलायंस का योगदान 39% बढ़कर ₹1,88,012 करोड़ हो गया है, रिलायंस ने वित्त वर्ष 22 में 2.32 लाख नौकरियां दी हैं।

डिजिटल सेवा में बढ़ाए बड़े कदम
अंबानी ने कहा- पिछले एक साल में रिलायंस जियो ने भारत के नंबर #1 डिजिटल सेवा प्रदाता के रूप में अपनी स्थिति को और मजबूत किया है। आज हमारे 4जी नेटवर्क पर 42 करोड़ 10 लाख मोबाइल ब्रॉडबैंड ग्राहक हैं और वे हर महीने औसतन 20 जीबी डेटा का इस्तेमाल करते हैं। हमारे प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया विजन से प्रेरित होकर देश ने Aadhaar, JanDhan, Rupay, UPI, AyushmanBharat, StartUpIndia जैसे कई विश्वस्तरीय नेशनल प्लेटफॉर्म्स को बनते और बड़ा होते देखा है।

11 लाख किली से लंबा ऑप्‍ट‍िक नेटवर्क
अंबानी बोले- जियो का उच्च-गुणवत्ता, मजबूत और हमेशा उपलब्ध रहने वाला फाइबर-ऑप्टिक नेटवर्क, भारत के डेटा ट्रैफिक की रीढ़ है। जियो का अखिल भारतीय फाइबर-ऑप्टिक नेटवर्क 11 लाख किमी से भी अधिक लंबा है। इससे पृथ्वी के 27 बार चक्कर लगाए जा सकते हैं। जियो फाइबर अब भारत में नंबर #1 FTTX सेवा प्रदाता है, जिसमें 70 लाख से अधिक परिसर जुड़े हुए हैं। यह उपलब्धि COVID19 लॉकडाउन के बावजूद दो साल से भी कम समय में हासिल हुई है। हम फिक्स्ड ब्रॉडबैंड के मामले में भारत को टॉप-10 देशों की लीग में ले जाएंगे। विशेष तौर पर फिक्स्ड ब्रॉडबैंड में डिजिटल कनेक्टिविटी बना रहा है।

जियो 5जी की लॉन्चिंग
मुकेश ने कहा- आज मैं जियो 5जी की घोषणा करना चाहता हूं। हम 10 करोड़ घरों को अद्वितीय डिजिटल अनुभवों और स्मार्ट होम सॉल्युशन्स से जोड़ेंगे। दिवाली तक जियो 5जी सर्विस लांच हो जाएगी। दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई के मेट्रो शहरों में दिवाली 2022 तक सर्विस लॉन्‍च की जाएगी। दिसंबर 2023 तक 18 महीनों में पूरे भारत को कवर करने के लिए इसे अन्य शहरों और कस्बों में तेजी से विस्तारित किया जाएगा। जियो की महत्वाकांक्षी 5G रोलआउट योजना दुनिया में सबसे तेज होगी।

रिलायंस रिटेल ने क‍िया 2 लाख करोड़ का कारोबार
रिलायंस रिटेल ने 2 लाख करोड़ रुपये के कारोबार और 12,000 करोड़ रुपये के EBITDA को हासिल किया है। यह एशिया के शीर्ष दस रिटेल विक्रेताओं में से एक है। रिलायंस रिटेल की रणनीति ने लाखों छोटे व्यापारियों को साथ जुड़ने और उन्हें समृद्ध होने के लिए एक मंच दिया है। दो साल पहले लॉन्च होने के बाद से इसने मर्चेंट पार्टनर्स बेस को 20 लाख से अधिक पार्टनर्स तक बढ़ा दिया है। वर्ष के दौरान JioMart Digital (JMD) पहल शुरू की गई, जिससे छोटे इलेक्ट्रॉनिक्स व्यापारी रिलायंस रिटेल के पूरे उत्पाद पोर्टफोलियो को एक सहायक बिक्री मॉडल पर बेचने में सक्षम हुए।



Source link

MERA SHARE BAZAAR
नमस्कार दोस्तों मेरा शेयर बाजार हिंदी भाषा में शेयर बाजार की जानकारी देने वाला ब्लॉग है। नए लोग इस बाजार में आना चाहते हैं उन्हें सही से मार्गदर्शन देने का प्रयास करती है। इसके अलावा फाइनेंसियल प्लानिंग, पर्सनल फाइनेंस, इन्वेस्टमेंट, पब्लिक प्रोविडेंड फण्ड (PPF), म्यूच्यूअल फंड्स, इन्शुरन्स, शेयर बाजार सम्बंधित खास न्यूज़ भी समय -समय पर देते रहते हैं। धन्यवाद्

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.