Tax Saving Tips: अपनी सैलरी में शामिल करवाएं ये 5 अलाउंस, बहुत सारे पैसों पर नहीं लगेगा टैक्स, ये रही पूरी लिस्ट


नई दिल्ली: इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) यानी आईटीआर फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई (Last Date to file ITR) नजदीक आती जा रही है। अब लोग ये सोच रहे हैं कि टैक्स कैसे बचाया (How to save tax) जाए। आपको एक बात ध्यान रखने की जरूरत है कि अगर आप पहले से ही टैक्स की प्लानिंग (Tax Planning) करेंगे, तभी अधिक टैक्स बचा सकेंगे। आखिरी मौके पर टैक्स प्लानिंग नहीं हो सकती है। इसी के तहत आपको नौकरी ज्वाइन करते वक्त या नया वित्त वर्ष शुरू होने पर अपनी सैलरी में कुछ बदलाव करवा लेने चाहिए, जिससे अधिक से अधिक टैक्स बचाया जा सके। कई कंपनियां जुलाई के दौरान भी सैलरी कंपोनेंट में बदलाव की सुविधा देती हैं। आइए जानते हैं ऐसे ही 5 बदलावों के बारे में, जो सैलरी में हो जाएं तो आप ढेर सारे पैसों पर टैक्स बचा (How to save tax by changes in salary) सकेंगे।

1- हाउस रेंट अलाउंस

मकान किराया भत्ता यानी हाउस रेंट अलाउंस अधिकतर कंपनियां अपने कर्मचारियों को देती हैं। यह आपकी बेसिक सैलरी का 40-50 फीसदी तक होता है। जब आप आईटीआर फाइल करते हैं तो उसमें आपको हाउस रेंट अलाउंस की रकम पर इनकम टैक्स में छूट मिलती है। ऐसे में अगर आपकी कंपनी हाउस रेंट अलाउंस नहीं देती है तो कंपनी के एचआर से बात जरूर कीजिए, ताकि आप टैक्स बचा सकें।

2- ट्रैवल या कन्वेंस अलाउंस

2-

ट्रांसपोर्ट भत्ता या ट्रैवल अलाउंस या कन्वेंस अलाउंस, कई नामों से आपका ट्रैवलिंग में होने वाला खर्च कवर किया जाता है। कंपनी यह अलाउंस आपको घर से ऑफिस आने-जाने के लिए देती है। वैसे तो यह अलाउंस भी आपकी सैलरी का हिस्सा होता है, लेकिन अगर आप इसे अलाउंस की तरह लेते हैं तो उस पर आप टैक्स छूट पा सकते हैं। इतना ही नहीं, कुछ कंपनियों को कन्वेंस अलाउंस को रीइम्बर्समेंट की तरह देती हैं। ऐसे में इन पैसों पर टैक्स लगना तो दूर, इसे आपकी सैलरी में टैक्स डिडक्शन के लिए शामिल ही नहीं किया जाता है।

3- फूड कूपन

3-

कन्वेंस अलाउंस की तरह ही फूड कूपन या मील वाउचर या सोडेक्सो कूपन दिए जाते हैं, जिनके तहत रोजाना 100 रुपये तक का कूपन आप हासिल कर सकते हैं। अब तो पेटीएम फूड वॉलेट में सीधे पैसे भेजने की सुविधा भी हो गई है। इन कूपन की अच्छी बात ये है कि यह आपको रीइम्बर्समेंट के रूप में दिया जाता है। यानी कंपनी आपको रोज दो बार खाना-खाने के लिए 50 रुपये प्रति मील के हिसाब से 100 रुपये देती है। इस तरह आपको 26,400 रुपये का फायदा हो सकता है।

4- कार मेंटेनेंस अलाउंस

4-

कुछ ऐसी भी कंपनियां हैं जो अपने कर्मचारियों को कार मेंटेनेंस अलाउंस तक देती हैं। इसके तहत कर्मचारी को कार के मेंटेनेंस, उसके डीजल या पेट्रोल का खर्च और ड्राइवर की सैलरी तक दी जाती है। इसके तहत कर्मचारियों को 2700 रुपये से लेकर 3300 रुपये तक प्रति महीने छूट मिल सकती है। देखा जाए तो कार मेंटेन करने के असल खर्चों के मुकाबले यह रकम काफी कम है, लेकिन इस अलाउंस की मदद से आपको अपनी कुछ अतिरिक्त सैलरी पर टैक्स बचाने का मौका मिलता है।

5- लीव ट्रैवल अलाउंस

5-

बहुत सारी कंपनियां अपने कर्मचारियों को लीव ट्रैवल अलाउंस देती हैं। इसका फायदा भी आप आईटीआर फाइल करते वक्त उठा सकते हैं। इसके तहत आपको कहीं घूमने जाने के लिए अलाउंस दिया जाता है। आप चार साल में 2 बार लंबे टूर पर घूमने जा सकते हैं। इस टूर का जो खर्च होगा उस पर एक तय सीमा तक आपको टैक्स छूट मिलेगी। यह सीमा आपके लीव ट्रैवल अलाउंस जितनी हो सकती है। तो अब आप भी घूमने की प्लानिंग कर लीजिए, लेकिन पहले एचआर से बात कर के अपनी सैलरी में लीव ट्रैवल अलाउंस जुड़वा लें।



Source link

MERA SHARE BAZAAR
नमस्कार दोस्तों मेरा शेयर बाजार हिंदी भाषा में शेयर बाजार की जानकारी देने वाला ब्लॉग है। नए लोग इस बाजार में आना चाहते हैं उन्हें सही से मार्गदर्शन देने का प्रयास करती है। इसके अलावा फाइनेंसियल प्लानिंग, पर्सनल फाइनेंस, इन्वेस्टमेंट, पब्लिक प्रोविडेंड फण्ड (PPF), म्यूच्यूअल फंड्स, इन्शुरन्स, शेयर बाजार सम्बंधित खास न्यूज़ भी समय -समय पर देते रहते हैं। धन्यवाद्

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.